Friday, July 19, 2024
Homeराजस्थानGodara Gang: जयपुर पुलिस ने रोहित गोदारा गैंग के 9 बदमाशों को...

Godara Gang: जयपुर पुलिस ने रोहित गोदारा गैंग के 9 बदमाशों को किया गिरफ्तार, बड़ी वारदात को टाला

- Advertisement -

India News Rajasthan (इंडिया न्यूज़), Godara Gang: जयपुर पुलिस ने एक बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए कुख्यात रोहित गोदारा गैंग के 9 बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। ये सभी बदमाश राजस्थान के व्यापारियों से रंगदारी नहीं देने पर फायरिंग करने की योजना बना रहे थे। पुलिस की इस कार्रवाई से शहर में हड़कंप मच गया है।

चित्रकूट थाना पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार किए गए 9 आरोपियों में से 3 आरोपी पहले से ही अजमेर हाई सिक्योरिटी जेल में बंद थे। इन तीनों को प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार किया गया है। ये तीनों आरोपी गैंगस्टर राजू ठेहठ हत्याकांड में सजा काट रहे थे और जेल में रहते हुए ही इन्होंने व्यापारियों पर फायरिंग करने की योजना बनाई थी। लेकिन पुलिस ने समय रहते इस षड्यंत्र का भंडाफोड़ कर दिया।

फिरौती रोकने के लिए स्पेशल टीम का गठन

जयपुर पश्चिम पुलिस उपायुक्त अमित कुमार ने बताया कि शहर में संगठित आपराधिक गैंग के नाम पर जान से मारने की धमकी देकर फिरौती मांगने की घटनाओं को रोकने के लिए एक स्पेशल टीम का गठन किया गया था। इसी टीम ने कार्रवाई करते हुए अजमेर हाई सिक्योरिटी जेल में बंद विक्रम गुर्जर, मुकेश जाट और कुलदीप चौधरी को गिरफ्तार किया। इन बदमाशों ने पुलिस पूछताछ में खुलासा किया कि वे सीकर संभाग और आस-पास के इलाकों के व्यापारियों से रंगदारी वसूलने की योजना बना रहे थे।

इसके बाद पुलिस ने अन्य आरोपियों सोनू सिंह, लोकेश साहू उर्फ मोदी, गिरधारी मान, हंसराज गुर्जर, जयसिंह राव, कुलदीप वैष्णव और जयसिंह को भी गिरफ्तार कर लिया। इन आरोपियों की योजना व्यापारियों के ठिकानों पर फायरिंग करने की थी। लेकिन पुलिस ने इस प्लान को नाकाम कर दिया।

जेल से ही साजिश को अंजाम देने की कोशिश 

पुलिस की जांच में यह भी पता चला है कि आरोपी विक्रम गुर्जर और मुकेश जाट ने जेल से ही इस साजिश को अंजाम देने की कोशिश की थी। उन्होंने अपने साथियों सोनू सिंह, लोकेश साहू और गिरधारी मान के साथ मिलकर हथियार जुटाए और नाबालिग लड़कों को इस वारदात के लिए तैयार किया था। जयसिंह ने इन बदमाशों को वाहन, मोबाइल फोन और फर्जी सिम कार्ड उपलब्ध करवाए थे।

जेल में रहते बनाई थी मर्डर की योजना

गिरफ्तार बदमाश रोहित गोदारा गिरोह से जुड़े हैं, जो कुख्यात आतंकी लॉरेंस बिश्नोई का खास गुर्गा है। मुकेश जाट 2020 में हुए सरपंच ओमप्रकाश सैनी मर्डर केस और गैंगस्टर राजू ठेहठ मर्डर केस का आरोपी है। कुलदीप चौधरी गैंगस्टर आनंदपाल का सहयोगी था और उसने राजू ठेहठ के मर्डर की योजना जेल में रहते हुए बनाई थी।

जयपुर पुलिस की इस कार्रवाई से व्यापारियों में राहत की लहर दौड़ गई है और बदमाशों में हड़कंप मचा हुआ है। पुलिस अब इन आरोपियों से आगे की पूछताछ में जुटी है।

Also read :

RPSC Vacancy: डिप्टी जेलर और वाइस प्रिंसिपल के पदों पर भर्ती, लोक सेवा आयोग ने जारी किया विज्ञापन

THAR में गंदा काम करती पकड़ी गई पुलिसवाली, साथ में गैंगेस्टर भी था

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular