Friday, July 19, 2024
Homeअन्य बड़ी ख़बरेंGold Mine: राजस्थान में यहाँ मिली सोने की खादान, हुए मालामाल

Gold Mine: राजस्थान में यहाँ मिली सोने की खादान, हुए मालामाल

- Advertisement -

India News Rajasthan (इंडिया न्यूज़), Gold Mine: राजस्थान के बांसवाड़ा जिले के घाटोल ब्लॉक में सोना खनन के लिए लाइसेंस जारी कर दिया गया है। भूकिया-जगपुरा ब्लॉक में खनन के लिए दो ब्लॉक आवंटित किए गए थे। हाल ही में इन दोनों ब्लॉकों के लिए स्वर्ण खनन के लाइसेंस को लेकर देश की चार से अधिक बड़ी कंपनियों के बीच कड़ी प्रतिस्पर्धा हुई। इस प्रतिस्पर्धा में रतलाम की सैयद ओवैस अली फर्म ने बाजी मारी और लाइसेंस हासिल किया।

जगपुरा के लिए लाइसेंस जारी, 5 कंपनियां प्रतिस्पर्धा में

अब जगपुरा के लिए लाइसेंस जारी कर दिया गया है, जबकि दूसरे ब्लॉक कांकरिया गारा गोल्ड के लिए 5 कंपनियां प्रतिस्पर्धा में हैं। इन कंपनियों में अहमदाबाद की हीराकुंड नेचुरल रिसोर्सेस लिमिटेड, मुंबई की पोद्दार डायमंड प्राइवेट लिमिटेड, रतलाम की ओवैस मेटल एंड मिनरल्स प्रोसेसिंग लिमिटेड, उदयपुर की हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड, और कानपुर की जेके सीमेंट लिमिटेड शामिल हैं।

रोजगार के अनगिनत अवसर

भू-वैज्ञानिकों के मुताबिक, इस क्षेत्र में 940.26 हेक्टेयर क्षेत्रफल में 113.52 मिलियन टन स्वर्ण अयस्क का आरंभिक आंकलन किया गया है, जिसमें 222.39 टन सोने की धातु शामिल है। कांकरिया गारा में 205 हेक्टेयर में 1.24 मिलियन टन स्वर्ण अयस्क संभावित है।

इन खदानों से सोने के अलावा अन्य सह खनिज भी मिलेंगे। बांसवाड़ा जिले में स्वर्ण खनन से इलेक्ट्रॉनिक, पेट्रोलियम, पैट्रोकैमिकल्स, बैटरी, एयर बैग सहित कई उद्योगों में नए निवेश होंगे और प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार के अनगिनत अवसर पैदा होंगे।

Also read :

POK में ये क्या करने जा रहा है पाकिस्तान

भारत में कितनी तरह की होती हैं शादियां, सबसे ज्यादा होती है मोनोगेमस मैरिज

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular